राम मंदिर दुनिया का सबसे बड़ा तीर्थ स्थल बनेगा | मक्का और वेटिकन सिटी से होगा बड़ा राम मंदिर

253

श्री राम मंदिर ट्रस्ट की पहली बैठक हो चुकी है। अब 15 दिन बाद राम मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान भी कर दिया जाएगा। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के बैनर तले राम मंदिर का निर्माण जल्द शुरू होने वाला है।

दुनिया का सबसे बड़ा मंदिर हो सकता है

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ट्रस्ट के सदस्य चाहते हैं कि राम मंदिर का विस्तार मक्का और वेटिकन सिटी से भी बड़ा होना चाहिए। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने कहा कि राम मंदिर दुनिया का सबसे बड़ा मंदिर होगा। जो मक्का और वेटिकन सिटी से भी बड़ा हो सकता है।

ऐसे में मिली जानकारी के मुताबिक, अगर मक्का मस्जिद की बात करें तो वो 99 एकड़ में फैली है। वहीं दूसरी तरफ ईसाइयों का तीर्थ स्थल वेटिकन सिटी 110 एकड़ में फैली है। ट्रस्ट चाहता है कि हिंदुओं का ये स्थल भी सबसे बड़ा होना चाहिए। जो दुनिया का केंद्र बने।

अभि तय हुई नहीं मंदिर निर्माण की तारीख

जानकारी के लिए बता दें कि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट को अभी तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण की तारीख तय नहीं करनी है। दो अप्रैल से इसके शुरू होने के संकेत मिले हैं।

तारीख तय करने में कई अड़चनें हैं और ट्रस्ट उन सभी मुद्दों को हल करने के लिए काम कर रहा है।

ट्रस्ट के सूत्रों ने कहा कि रामनवमी के अवसर पर अयोध्या में 15 से 20 लाख लोग आएंगे। उस दिन मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू करना मुश्किल होगा क्योंकि प्रशासन के लिए भीड़ को नियंत्रित करना और राम जन्मभूमि स्थल की ओर जाने से रोकना एक बड़ी चुनौती होगी।

बता दें कि ट्रस्ट ने कहा कि 67 एकड़ जमीन को समतल करने में काफी समय लगेगा। पिछले 30 सालों से किसी को भी रामलला के मंदिर परिसर में जाने की अनुमति नहीं है। इसलिए किसी को नहीं पता कि वहां क्या स्थिति है। इसका जायजा लिए बिना किसी भी तारीख को तय करना संभव नहीं है।

इसके अलावा सुरक्षा कारणों से मंदिर का निर्माण तुरंत शुरू नहीं किया जा सकता है, क्योंकि सुरक्षा एजेंसियों की अनुमति के बिना वहां कुछ भी करना संभव नहीं है। निर्माण कार्य शुरू करने से पहले रामलला को किसी अन्य स्थान पर रखा जाना चाहिए और इसके लिए भी सुरक्षा एजेंसियों से अनुमति लेनी होगी, इसमें भी कुछ समय लगेगा।